Toll tax में छूट को लेकर लच्छीवाला टोल प्लाजा पर स्थानीय लोगों का हंगामा, पुलिस पहुंची

1 min read

देहरादून-हरिद्वार (dehradun-hardwar) हाईवे पर लच्छीवाला में टोल टैक्स toll tax के विरोध में स्थानीय लोगों ने टोल प्लाजा (toll plaza) पहुंचकर हंगामा किया।

वे स्थानीय लोगों को टोल टैक्स से छूट दिए जाने की मांग कर रहे थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने लोगों को रोका।

Toll tax को लेकर लच्छीवाला टोल प्लाजा पर हंगामा करते लोग।
Toll tax को लेकर लच्छीवाला टोल प्लाजा पर हंगामा करते लोग।

आपको बता दें कि बृहस्पतिवार से लच्छीवाला टोल प्लाजा पर टोल टैक्स (toll tax) वसूला जाना शुरू हो गया। पहले ही दिन टोल नाके के दोनों ओर लोगों की लंबी लाइन लगी रही।

लोकल (local) निजी चौपहिया वाहनों के लिए पास (pass) की व्यवस्था की गई है। यह पास वाहन स्वामी टोल प्लाजा (toll plaza) में बनवा सकेंगे।

आपको बता दें कि देहरादून-हरिद्वार (dehradun-hardwar) हाईवे पर इस टोल टैक्स के केवल 20 किलोमीटर के दायरे में निजी वाहनों को पास की सुविधा होगी। इसके लिए ₹275 हर महीने शुल्क (fee) देना होगा।

इसके लिए आधार कार्ड (aadhar card) के अलावा अन्य दस्तावेज (documents) टोल प्लाजा में जमा करने होंगे।

आपको बता देें कि लच्छीवाला में टोल टैक्स (toll tax in lacchiwala) पड़ने की वजह यहां पड़ने वाला फ्लाईओवर (flyover) है, जिसे हाल ही में बनाया गया है।

इस पर वाहनों की आवाजाही शुरू हो गई है। फ्लाईओवर को देहरादून की ओर बनाया गया है।

यह पास बनवाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण यानी national highway authority of India (NHAI)  ने कुछ नियम लागू किए हैं।

इसके लिए आधार कार्ड, घर का पता, गाड़ी का नंबर और ईमेल आईडी देनी होगी।

यह पास बनवाने का समय सुबह 8:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक रहेगा। यदि वाहन स्वामी चाहे तो पास के लिए वेबसाइट (website) के जरिए भी आवेदन कर सकता है।

टोल टैक्स (toll tax) की दरें सिंगल यात्रा, आने-जाने और मासिक पास के आधार पर तय की गई हैं।

यह भी पढ़ें

http://khaskhabar24.com/dehradun-hardwar-highway-journey-gets-costlier-lacchiwala-toll-tax-starts/

देहरादून जिले में पंजीकृत (registered) कामर्शियल (commercial) वाहनों का टैक्स (tax) अलग से तय किया गया है।

आपको बता दें कि देहरादून जिले में पंजीकृत कार, जीप, वैन समेत अन्य हल्के वाहनों की सिंगल यात्रा के लिए ₹40, हल्के व्यवसायिक और हल्के माल वाहनों के लिए 65 रुपए शुल्क रखा गया है।

बस और ट्रक के लिए 140 रुपए शुल्क रखा गया है, जबकि अन्य बड़े प्रकार के वाहनों को 270 रुपए टैक्स चुकाना होगा। उधर, स्थानीय लोग लगातार टोल टैक्स से छूट देने की मांग कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *