CSK in IPL इस मामले में रही टाप पर, जहां कोई टीम नहीं आना चाहती

1 min read

CSK in IPL भले ही कोई कमाल नहीं कर पाई, लेकिन वह एक मामले में टाप पर रही। मामला भी ऐसा, जिसमें कोई टीम सबसे ऊपर नहीं रहना चाहेगी।

यह मामला है खराब फील्डिंग से रन लुटाने का। फेयर प्ले  (fair play award) के मामले में महेंद्र सिंह धोनी (mahendra singh dhoni) की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स बेशक आगे रही, लेकिन उसके खिलाड़ी टीम के लिए रन सेव नहीं कर सके।

CSK in IPL नेगेटिव रिकॉर्ड (negative record) कायम किया है। चेन्नई सुपर किंग्स की फील्डिंग बेहद खराब रही है।

आपको बता दें कि रन लुटाने के मामले में जहां यह टीम सबसे ऊपर है, वहीं इसके बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (royal challengers banglore) यानी आरसीबी (RCB) और कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata knight riders) यानी केकेआर (KKR) बने हुए हैं।

यह भी पढ़ें-

http://khaskhabar24.com/tilak-will-play-for-country-not-only-for-mumbai-or-ipl/

चेन्नई सुपर किंग्स (chennai super kings) ने जहां खराब फील्डिंग से 61 अतिरिक्त रन लुटाए हैं, वही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाड़ियों ने 47, जबकि कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाड़ियों ने क्षेत्ररक्षण में खराब प्रदर्शन कर अपनी टीम को 45 रनों का नुकसान पहुंचाया है।

दोस्तों, यह तो आप भली भांति जानते ही हैं कि ऐसे मुकाबलों में जहां महज 1 रन भी हार -जीत का फैसला करता है, वहां इतने रनों को लुटाए जाने से टीम पर क्या असर हुआ होगा यह सहज ही समझा जा सकता है।

आपको बता दें कि आईपीएल-2022 से सीएसके पहले ही कई हार के बाद बाहर हो चुकी है, वहीं कोलकाता नाइट राइडर्स का प्रदर्शन भी श्रेयस अय्यर की अगुवाई में कोई बहुत बेहतर नहीं रहा है।

यह टीम भी बाहर हो चुकी है। आरसीबी जरूर क्वालीफायर में जगह बनाने में कामयाब रही है। आपको बता दें कि सीएसके के कप्तान रहे महेंद्र सिंह धोनी पहले ही 2023 आईपीएल सीजन में खेलने के लिए हामी भर चुके हैं।

बाहर हो चुकी टीमों का ध्यान अब नए सीजन के लिए नए तरीके से रणनीति बनाने पर है, ताकि वे ट्राफी के नजदीक पहुंच सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *